India Suvidha Admit card , latest vacancy,current vacancy,latest result ,all govt scheme

Education Information....

Follow

Subscribe to notifications
Join for Job Update

Pm kishan saman nidhi yoajan Ekyc 2022 Online form

Pm kishan saman nidhi yoajan Ekyc 2022 Online form

पीएम – किसान योजना लाभार्थियों को 31 मई तक करानी होगी ई-केवाईसी

प्रधानमंत्री किसान योजना के सभी लाभार्थी किसानों को 31 मई  2022 तक ई-केवाईसी (सत्यापन) करानी होगा।
जो किसान 31 मई 2022 तक ई-kyc नहीं कराता है तो पैसे सरकार नहीं भेजेगी |
स्टेट नोडल अधिकारी पीएम किसान मुक्तानंद अग्रवाल ने इसके आदेश जारी किए। उन्होंने बताया कि ई-केवाईसी के अभाव में कृषकों को योजना की आगामी किस्त नहीं मिलेगी। किसान को किसी भी ई -मित्र केंद्र से आधार कार्ड के द्वारा बायोमेट्रिक प्रणाली से ई-केवाईसी करानी होगी। ई-मित्र केंद्र पर ई-केवाईसी के लिए शुल्क  15 प्रति लाभार्थी (कर सहित) निर्धारित किया गया है।
उद्देश्य – अपात्र किसानों को छटनी है अर्थात जो किसान जीवित नहीं है अर्थात वास्तविक किसान नहीं है तो वह इस लिस्ट से बाहर हो जायेगा |
इस योजना में कई अपात्र किसान जुड़े हुए हैं केंद्र स्तर पर इनकी छटनी के लिए की केवाईसी का निर्णय लिया गया है।
ई – kyc आप आधार में लिंक मोबाइल नंबर पर otp के द्वारा भी किया जा सकता है और आधार में मोबाइल नंबर लिंक नहीं होने की स्थिति में आपको अपने नजदीक csc केंद्र पर जाकर बायोमेट्रिक लगाकर pm किसान सम्मान निधि योजना की kyc करानी होगी |

धानमंत्री किसान सम्मान योजना का लाभ लेने वाले किसान 31 मई तक केवाईसी करवा लें। अन्यथा इस योजना के लाभ से वह वंचित रह जाएंगे। यह जानकारी वीरवार को प्रधान मंत्री किसान सम्मान योजना के •िाला नोडल अधिकारी कम कृषि विकास अधिकारी डा. जसपाल सिंह धंजू ने दी।

उन्होंने बताया कि यह योजना केंद्र सरकार द्वारा किसानों की आय बढ़ाने के लिए दिसंबर 2018 में शुरू की थी। योजना के तहत हर किसान परिवार को तीन किस्तों में 6000 रुपये सालाना लाभपात्र के खाते में सीधे ट्रांसफर किए जाते हैं।

 

PM सम्मान किसान निधि योजना क्या है ?

यह योजना केंद्र सरकार द्वारा किसानों की आय बढ़ाने के लिए दिसंबर 2018 में शुरू की थी। योजना के तहत हर किसान परिवार को तीन किस्तों में 6000 रुपये सालाना लाभपात्र के खाते में सीधे ट्रांसफर किए जाते हैं।

भारत सरकार के आदेशों अनुसार प्रत्येक लाभपात्र किसान को 31 मई तक अपनी ई-केवाईसी करवाना जरूरी है। इसके लिए पीएम किसान पोर्टल पर जा कर ओटीपी से आधार के साथ जुड़े मोबाइल फोन से भी किया जा सकता है। इसके इलावा कामन सर्विस सेंटर में जा कर अंगूठे के निशान के द्वारा भी ई-केवाईसी किया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि किसान परिवार का एक सदस्य (पति -पत्नी और 18 साल से कम आयु के बच्चे) जिसके पास कृषि भूमि का मालिकाना हो इस स्कीम का लाभ उठा सकते हैं।

पेंशनर्स हैं तो नहीं मिलेगा किसान सम्मान निधि का लाभ

उन्होंने बताया कि जिनके पास •ामीन की मलकियत न हो, इंकम टैक्स देने वाले, किसी संवैधानिक पद पर रहने वाले व्यक्ति, सरकारी नौकरी या पेंशनर, व्यापारिक प्रतिष्ठान के साथ-साथ डाक्टर, इंजीनियर, सीए, वकील, आर्किटेक्ट इस का लाभ नहीं ले सकते।

अगर आप भी एक किसान हैं तो आपके लिए एक बड़ी खबर है। लाभार्थी किसानों को अब केवाईसी कराने के लिए थोड़ी दिक्कत का सामना करना होगा। अभी तक वह घर बैठे-बैठे ही केवाईसी प्रक्रिया पूरी कर पा रहे थे, लेकिन अब ऐसा नहीं हो सकेगा। दरअसल, मोबाइल के जरिए ओटीपी का इस्तेमाल कर के ई-केवाईसी (E KYC PM Kisan Samman Nidhi Yojana) करने की प्रक्रिया को अभी अस्थाई तौर पर सस्पेंड कर दिया गया है। जानिए इस योजना के लिए कैसे करें रजिस्टर (how to register for pm kisan yojana) और कैसे चेक करें इसमें अपना नाम (how to check name in pm kisan scheme

 

रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि की आधिकारिक वेबसाइट पर भी यह सूचना फ्लैश हो रही है। अभी यह नहीं बताया गया है कि इसे दोबारा कब शुरू किया जाएगा। वेबसाइट के अनुसार अब केवाईसी के लिए नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर यानी सीएससी पर जाना होगा और बायमीट्रिक ऑथेंटिकेशन देना होगा। अभी तक आधार नंबर का इस्तेमाल करते हुए ओटीपी के जरिए ई-केवाईसी की सुविधा दी जा रही थी।

ई-केवाईसी की लास्ट डेट बढ़ी

केंद्र सरकार ने इस योजना का लाभ पाने के लिए अनिवार्य ई-केवाईसी (eKYC) की प्रक्रिया को पूरा करने के लिए डेडलाइन आगे बढ़ा दी है। पीएम किसान पोर्टल के मुताबिक अब 31 मई, 2022 तक इस प्रक्रिया को पूरा किया जा सकता है। पहले इसकी अंतिम तिथि 31 मार्च, 2022 थी, जिसे बाद में 22 मई कर दिया गया था। देश में पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत करीब 12.53 करोड़ किसान रजिस्टर्ड हैं। केंद्र सरकार ने इस योजना के लाभार्थियों के लिए ई-केवाईसी प्रक्रिया को अनिवार्य किया है। पीएम किसान पोर्टल के मुताबिक PM KISAN के रजिस्टर्ड किसानों के लिए eKYC अनिवार्य है।

 

इस योजना के तहत किसानों को हर महीने 500 रुपये दिए जाते हैं। इसमें चार महीने की किस्त एक साथ दी जाती है। अब तक इसकी 10 किस्तें दी जा चुकी हैं। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत अब तक 10 किस्तों का भुगतान किया जा चुका है। दसवीं किस्त एक जनवरी, 2022 को किसानों को खाते में ट्रांसफर की गई थी। इस योजना के तहत किसानों को पहली किस्त एक अप्रैल से 31 जुलाई के बीच दी जाती है। दूसरी किस्त का पैसा एक अगस्त से 30 नवंबर के बीच मिलता है। इसी तरह तीसरी किस्त का पैसा एक दिसंबर से 31 मार्च के बीच में ट्रांसफर किया जाता है।

 

PM किसान निधि योजना में निम्न वर्ग के किसान लाभ नहीं ले सकते है –

  • अगर कोई किसान खेती करता है लेकिन वह खेत उसके नाम पर न होकर उसके पिता या दादा के नाम हो तो उसे 6000 रुपये सालाना का लाभ नहीं मिलेगा। वह जमीन किसान के नाम होनी चाहिए।
  • किसी के पास एग्रीकल्चर लैंड है लेकिन उस पर नॉन एग्रीकल्चर एक्टिविटी होती हैं, तो भी लाभ नहीं मिलेगा।
  • अगर कृषि योग्य भूमि पर खेती नहीं हो रही है तो भी लाभ नहीं मिलेगा।
  • अगर कोई किसान किसी दूसरे किसान से जमीन लेकर किराए पर खेती करता है, तो भी उस किराए पर खेती करने वाले को योजना का लाभ नहीं मिलेगा।
  • सभी संस्थागत भूमि धारक इस योजना के दायरे में नहीं आएंगे।
  • अगर कोई किसान या उसके परिवार में कोई संवैधानिक पद पर है या था तो उस किसान परिवार को लाभ नहीं मिलेगा।
  • राज्य/केंद्र सरकार के कर्मचारी या रिटायर्ड कर्मचारी, पीएसयू/पीएसई के रिटायर या सेवारत कर्मचारी, सरकारी स्वायत्त निकायों के सेवारत या सेवानिवृत्त अधिकारी और कर्मचारी, लोकल बॉडीज के कर्मचारी होने पर भी योजना का लाभ नहीं लिया जा सकता।
  • पूर्व या सेवारत मंत्री/राज्यमंत्री, मेयर या जिला पंचायत अध्यक्ष, विधायक, एमएलसी, लोकसभा और राज्यसभा सांसद पात्र नहीं हैं।
  • डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, आर्किटेक्ट्स और वकील जैसे प्रोफेशनल्स को भी योजना का लाभ नहीं मिलेगा, भले ही वे किसानी भी करते हों।
  • 10,000 रुपये से अधिक की मासिक पेंशन पाने वाले सेवानिवृत्त पेंशनभोगियों को इसका लाभ नहीं मिलेगा।
  • अगर किसी किसान ने या उसके परिवार में से किसी ने अंतिम मूल्यांकन वर्ष में इनकम टैक्स का भुगतान किया है तो उस किसान परिवार को भी योजना के दायरे से बाहर रखा गया है।

pm किसान की लिस्ट में कैसे चेक कर सकते हैं अपना नाम

पीएम किसान सम्मान निधि योजना लाभार्थी 8वीं किस्त के लिए बेनिफीशियरी लिस्ट में अपना नाम चेक कर सकते हैं। यह लिस्ट pmkisan.gov.in पोर्टल पर अपलोड हो जाती है, जिसमें कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय, पीएम किसान सम्मान निधि के तहत लाभ पाने वाले किसानों के नाम शामिल करता है। नाम चेक करने के लिए-

  • pmkisan.gov.in पर क्लिक करें।
  • वेबसाइट खुलने के बाद मेन्यू बार देखें और ‘फार्मर कॉर्नर’ पर जाएं।
  • लाभार्थी सूची/बेनिफीशियरी लिस्ट टैब पर क्लिक करें।
  • अपना राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव का विवरण दर्ज करें।
  • इसके बाद आपको Get Report पर क्लिक करना होगा, जिसके बाद आपको जानकारी मिल जाएगी।
  • जिन किसानों को इस योजना का लाभ सरकार की तरफ से दिया गया है उनके भी नाम राज्य/जिलेवार/तहसील/गांव के हिसाब से देखे जा सकते हैं।

अगर लिस्ट में आपका नाम नहीं है तो आप पीएम किसान सम्मान की हेल्पलाइन 011-24300606 पर कॉल कर के अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। बता दें कि पीएम किसान सम्मान योजना में सरकार 3 किश्तों में पैसा ट्रांसफर करती है। पहली किश्त 1 दिसंबर से 31 मार्च, दूसरी किस्त 1 अप्रैल से 31 जुलाई और तीसरी किश्त 1 अगस्त से 30 नवंबर के बीच में किसानों के खाते में पहुंचती है।

 

किसान पीएम किसान हेल्पलाइन से भी जानकारी ले सकते हैं और कोई समस्या हो ता शिकायत दर्ज करा सकते हैं। पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर 155261 है। इसके अलावा पीएम किसान टोल फ्री नंबर 18001155266 और पीएम किसान लैंडलाइन नंबर 011-23381092, 23382401 भी है। पीएम किसान की एक और हेल्पलाइन 0120-6025109 और ई-मेल आईडी