Admit card , latest vacancy,current vacancy,latest result ,all govt scheme

Lockdown 4: जानें 5 खास बाते इन राज्यों में क्या -क्या चल रही है प्लानिंग, सोमवार से हो रहा शुरू

Lockdown 4.0

  • देश में Coronavirus से बचाव के चलते Lockdown लगाया गया है.

  • वर्तमान में लॉकडाउन का तीसरा चरण चल रहा है. यह 17 मई तक लागू रहेगा..

Lockdown 4.0

 

 

 

 

 

 ये भी पढे-हेल्थ एक्सपर्ट की चेतावनी, भारत को कोविड-19 के कम्युनिटी ट्रांसमिशन के लिए तैयार रहना चाहिए

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) से बचाव के चलते लॉकडाउन (Lockdown) लगाया गया है. वर्तमान में लॉकडाउन का तीसरा चरण चल रहा है. यह 17 मई तक लागू रहेगा. 18 मई से लॉकडाउन 4 (Lockdown 4) शुरू होगा लेकिन यह इसके तीन चरणों से थोड़ा अलग होगा. सरकार की कोशिश है कि लॉकडाउन के चौथे चरण में जमीन पर हालातों को सामान्य दिखाया जाए. गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक जहां तक मुमकिन है सबसे पहली राहत पब्लिक ट्रांसपोर्ट के क्षेत्र में दी जाएगी, जमीन पर और हवा में, यानी चिन्हित क्षेत्रों में हवाई व बस सेवाओं को शुरू किया जाएगा.

Lockdown 4.0

वित्त मंत्री का ऐलान-छोटे खादय-उधोगों को मिलेंगे 10 हजार करोड़।

किन राज्यों में कैसी चल रही है प्लानिंग- 5 बातें

  1. कई राज्यों में आंध्र प्रदेश, केरल, कर्नाटक, गुजरा और राजधानी दिल्ली ने सुझाव दिया है कि अर्थव्यवस्था और समाज के बड़े परतों को फिर से खोला जाए, जिसे पहले लॉकडाउन चरणों के दौरान बंद हो गए थे. उदाहरण के तौर पर आंध्र ने नॉन-कंटेनमेंट जोन में सभी आर्थिक व सामाजिक गतिविधियों को फिर से खोलने प्रस्ताव दिया है. स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार इस राज्य में COVID-19 के कुल 2,137 केस हैं और 11,422 लोग क्वारंटाइन हैं.
  2. दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोगों से फीडबैक मिलने के बाद गुरुवार को मीडिया से बात करते वक्त बताया कि उन्हें कंटेनमेंट जोन छोड़कर आर्थिक गतिविधियों में ढील देने के सुझाव मिले हैं. उन्होंने दिल्ली में और अधिक प्रतिबंधों को हटाने के लिए आह्वान किया गया है.
  3. केरल का सबसे ज्यादा रेवन्यू टूरिज्म से ही आता है. इसी कारण केरल मेट्रो सेवा, लोकल ट्रेन, घरेलू फ्लाइट, रेस्टॉरेंट और होटल्स को फिर से खोलना चाहता है. भारत के पहले तीन कोरोनावायरस इसी राज्य से मिले थे. राज्य में कोरोना से संक्रमण फैलने की स्थिति पर काबू पाने कामयाब रहा है. कुल 560 कोरोना के मामले आए, जिसमें लगभग 500 ठीक हो गए हैं और केवल चार मौतें हुई हैं.
  4. कर्नाटक ने सोशल डिस्टेंसिंग को प्रोत्साहित करने और कोरोनावायरस के संक्रमण की जांच करने के लिए कई सप्ताह पहले बंद किए गए रेस्तरां, होटल और व्यायामशालाओं समेत सार्वजनिक स्थानों को फिर से खोलने की अनुमति मांगी है. कर्नाटक में अभी कोरोनावायरस के 959 एक्टिव केस हैं. गृह मंत्रायल के डाटा के अनुसार, अभी 1,518 लोग आइसोलेशन में हैं. पिछले हफ्ते पब और बार को शराब की ब्रिकी की अनुमति प्रदान की गई है.
  5. तमिलनाडु ने कंटेनमेंट जोन को छोड़कर अन्य इलाकों में आर्थिक गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए सुझाव दिया है. पिछले कुछ दिनों से राज्य में कोरोना के मामले ज्यादा संख्या में आए हैं, जिसकी वजह से इस अनुरोध को सावधानी के साथ देखे जाने की संभावना है. राज्य की राजधानी चेन्नई में एक सब्जी बाजार से करीब 2,600 से अधिक कोरोना के मामलों को जोड़ा गया है. 4,623 लोग राज्य में क्वारंटाइन में हैं, सोमवार से, दुकानों और निजी संगठनों के लिए काम के घंटे में विस्तार सहित राहत की घोषणा की.

 

Related post