Admit card , latest vacancy,current vacancy,latest result ,all govt scheme

Ration Card: श्रमिक और दिहाड़ी मजदूरों के लिए खुशखबरी, 1 अप्रैल से मिलेगा फ्री राशन

Ration Card: श्रमिक और दिहाड़ी मजदूरों के लिए खुशखबरी, 1 अप्रैल से मिलेगा फ्री राशन

कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को उत्तर प्रदेश सरकार बड़ी राहत देने जा रही है. दरअसल उत्तर प्रदेश सरकार 1 अप्रैल से निश्शुल्क राशन वितरण करेगी. राज्य सरकार की ओर से इसके लिए तैयारी पूरी कर ली गई है. सीएम योगी ने शनिवार को अंत्योदय योजना के 1.65 करोड़ लाभार्थियों के अलावा मनरेगा और श्रम विभाग में पंजीकृत निर्माण श्रमिक और दिहाड़ी मजदूरों को एक माह का मुफ्त राशन दिए जाने की घोषणा की थी. इन सभी को राशन पीडीएस दुकानों के जरिए दिया जाएगा. इसके लिए नोडल अफसर तैनात किए गए हैं.

श्रमिक और दिहाड़ी मजदूरों को मुफ्त राशन

श्रमिक और दिहाड़ी मजदूरों को 20 किलो गेहूं, 15 किलो चावल मुफ्त मिलेगा. इसके अलावा मुख्यमंत्री ने मनरेगा मजदूरों को तुरंत भुगतान करने के निर्देश भी दिए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए जो कदम उठाए जा रहे हैं, उसका असर रोजाना आजीविका कमाने वाले लोगों पर पड़ेगा. इसके लिए वित्त मंत्री सुरेश खन्ना के नेतृत्व में एक कमिटी का गठन किया था. कमिटी की रिपोर्ट के आधार पर दिहाड़ी मजदूरों के लिए प्रदेश सरकार ने भरण-भोषण भत्ते की मंजूरी दी है

श्रमिक और दिहाड़ी मजदूरों को मिलेगा एक हजार रुपये

प्रदेश में श्रम विभाग में 20.37 लाख श्रमिक पंजीकृत हैं. भरण-पोषण के रूप में एक हजार रुपये डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (डीबीटी) के माध्यम से उनके अकाउंट में भेजे जाएंगे. जिन श्रमिकों के खाते नहीं है, उनके खाते जल्द खुलवाकर लेबर सेस फंड से सभी श्रमिकों को हर महीने 1000 रुपये डीबीटी के जरिए दिए जाएंगे.

ठेला-खोमचा लगाने वालों को भी मिलेगा 1,000 रुपये

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रदेश में घुमंतू जैसे ठेला, खोमचा, रेहड़ी और रिक्शा चलाने, साप्ताहिक बाजार में काम करने वालों की संख्या करीब 15 लाख है. इनके लिए भी सरकार एक हजार रुपये भरण-पोषण योजना के तहत तत्काल देगी. इनका डेटाबेस नगर विकास अगले 15 दिनों में तैयार किया जाएगा. ऐसे सभी श्रमिकों के खातों में यह रकम हर महीने डीबीटी के माध्यम से दी जाएगी. इस पर सरकार का करीब 150 करोड़ रुपये का खर्च आएगा.

मजदूरों का बनेगा राशन कार्ड

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि शहरी क्षेत्रों में ऐसे दिहाड़ी मजदूर जिनके पास राशन कार्ड नहीं हैं, उनके कार्ड प्राथमिकता के आधार पर बनाए जाएंगे. फिलहाल प्रदेश के सभी मजदूरों या ठेला, खोमचा लगाने वालों को तत्काल राशन उपलब्ध करवाने के आदेश दिए गए हैं.

वृद्धावस्था पेंशन एक महीने की एडवांस

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में लागू विभिन्न पेंशन योजनाओं के 83.83 लाख लाभार्थियों को दो महीने की अडवांस पेंशन दी जाएगी. इसका भुगतान अप्रैल में कर दिया जाएगा. इसमें वृद्धावस्था, दिव्यांगजन सशक्तीकरण पेंशन और निराश्रित विधवा के लाभार्थी शामिल हैं.